सपा के साथ गठबंधन पर बोले जयंत चौधरी, इस महीने के अंत तक लेंगे फैसला


 

2022 में उत्तर प्रदेश के अंदर विधानसभा चुनाव होने है। चुनावों को देखते हुए राजनीतिक पार्टियां एक दुसरे के साथ गठबंधन करने में जुटी हुई है। तो वहीं, गठबंधन को लेकर राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष जयंत चौधरी का बड़ा बयान सामने आया है। रालोद अध्यक्ष चयंत चौधरी ने कहा इस महीने के अंत तक हम गठबंधन पर फैंसला लेंगे। आपको बता दें कि, जयंत चौधरी का पार्टी अध्यक्ष के तौर पर पहला इम्तिहान है। इसलिए, वह रालोद के परंपरागत वोट को साथ जोड़कर विधानसभा चुनाव में खुद को साबित करने की हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं।

जयंत चौधरी ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन पर बात करते हुए कहा, 'इस महीने (नवंबर) के अंत तक, हम (रालोद और समाजवादी पार्टी) निर्णय लेंगे और साथ आएंगे। हालांकि, दोनों दतो वहीं, जयंत चौधरी के लिए पार्टी अध्यक्ष के तौर यह पहला चुनाव है। उनके लिए कड़ा इम्तिहान होगा। हालांकि, प्रदेश में किसानों को जो वोट रालोद का परंपरागत वोट माना जाता रहा था, वह उसे फिर से अपने साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं। जो जाट किसान वोट, किसान आंदोलन से पहले भाजपा के साथ जुड़ गया था, वह अब भाजपा से टूट गया है। जयंत चौधरी इस मोर्चे पर जाट किसानों के वोट को फिर से अपने साथ लाने की जुगत में हैं। अगर वह ऐसा कर पाने में सफल हो जाते हैं तो उत्तर प्रदेश की राजनीति में रालोद का कद फिर से बढ़ेगा।लों के बीच गठबंधन लगभग-लगभग तय है लेकिन अभी इसकी औपचारिक घोषणा नहीं की गई है। तो वहीं, सीट बंटवारे सहित कुछ मामलों पर विचार हो रहा है। आपको बता दें, किसान आंदोलन से पश्चिमी यूपी में रालोद को पॉलिटिकल माइलेज मिला है।



Post a Comment

0 Comments